BSE और NSE क्या है इनके बीच अंतर ?

BSE और NSE क्या है इनके बीच अंतर ?

BSE और NSE क्या है इनके बीच अंतर ? ये सवाल सबको आता होगा की शेअर मार्केट मे दो स्टॉक एक्सचेंज है  BSE और  NSE लेकिन BSE क्या है.और NSE क्या है इन दोनो मे अंतर क्या है ये कुछ लोगो को पता नही होता आज हम आपको एनएसई बीएसइ क्या है और इन दोनो मे क्या अंतर है इसके बारे में बताने वाले है तो चलिये बिना देरी कीये जानते है NSE BSE क्या है

1.BSE क्या है

BSE का फुल फॉर्म (Bombay stock exchange) है भारत मे शेअर मार्केट में कुल मिलाकर 23 स्टॉक मार्केट है उन्मेसे सबसे ज्यादा ट्रेडिंग करने वाला BSE स्टॉक एक्सचेंज है BSE की स्थापना 1875 मे प्रेमचंद रायचंद ने की ये मुंबई में स्थित है BSE मे 5000 से भी ज्यादा कंपनीया लिस्टेड है आपने येतो जान लिया बीएसइ का फुल फॉर्म क्या है और बीएसइ की स्थापना कब हुई अब हम जानते है BSE कैसे काम करता है

BSE कैसे काम करता है

जैसा की हमने उपर बताया बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज मे 5000 से भी ज्यादा कंपनीया लिस्टेड है ये ऊन पाच हजार कंपनीयो के शेअर्स BSE के पास होते है जहासे आप शेअर्स bay और sale कर सकते है

सीधा सीधा कहा जाये तो BSE  एक मार्केट है जहा से आप ऊन पाच हजार कंपनीओके शेअर्स खरीद और बेज सकते है अब हम जानते है NSE क्या है और कैसे काम करता है

यह भी जानीए 👉डिमॅट और ट्रेडिंग अकाउंट क्या है?

2.NSE क्या है

NSE का फुल फॉर्म (National stock exchange) है NSE की स्थापना 1992 मे की गई यह भी मुंबई में स्थित है NSE मे 1600 से भी ज्यादा कंपनीया लिस्टेड है NSE की स्थापना इसलिये की गई. पहिले कोई भी इन्वेस्टर को शेअर्स खरीदना होता था तो उसे शेअर्स आने मे और बेचने मे बहुत दिन या महिने बीत जाते ते इसी कारण से NSE की स्थापना की गई ताकी शेअर मार्केट computerise हो सके और शेअर्स की खरेदी विक्री आसानीसे हो सके अब हम जानते है NSE कैसे काम करता है

NSE कैसे काम करता है

जैसा की हमने उपर बताया BSE मे 5000 कंपनीया  लिस्टेड है जैन कंपनीयो के शेअर्स आप खरीद और बेच सकते है. वैसे ही NSE मे 1600 से ज्यादा कंपनिया लिस्टेड है जीन कंपनीयो से आप शेअर्स खरीद सकते है और मार्केट मे बेच सकते है

आपको अगर किसी भी कंपनी का शेअर्स खरीदना होता है तो आप directly ऊस कंपनी से शेअर्स नही खरीद सकते क्युकी. किसी भी कंपनी को आइपीओ लाने से पहले सेबी से अप्रूवल लेना होता है . तब जाके वो कंपनी  शेअर मार्केट मे लिस्टेड होती है . तभी आप उस कंपनी केशेअर्स खरीद सकते है .

अब आप ये सोच रहे होंगे ये सेबी क्या है SEBI (security exchange board of India) जैसे की बँको के लिए RBI होता है उसी तरह शेअर मार्केट मे किसी भी इन्वेस्टर के साथ किसी भी तरहका  cam ना हो सके इसी कारण से government ने सीबी की स्थापना की भारत मे  शेअर मार्केट मे जितने भी स्टॉक एक्सचेंज है ये ऊन सबकि निगरानी करता है. अब हम जानते है NSE BSE मे क्या अंतर होता है

BSE और NSE क्या है इनके बीच अंतर ?

अगर आप शेअर मार्केट मे लंबे समय तक इन्वेस्ट करते हो तो आपको शेअर मार्केट के ये दो स्टॉक एक्सचेंज मे क्या अंतर है ये जरुर पता होना चाहिये हमने इसके बारे मे step by step नीचे लिखा है आप इसे ध्यानपूर्वक पढे

BSE क्या है इनके बीच अंतर ?

• BSE ये एक एशिया का old स्टॉक एक्सचेंज है जहासे हम         शेअर्स  खरीद और बेच सकते है

•  पुरे वर्ल्ड मे BSE टॉप 10 largest स्टॉक एक्सचेंज हे

• BSE मे 5000  कंपनीया लिस्टेड है

• BSE का market capitalisation 31 मार्च 2020
के अनुसार 113.49 2 trillion dollars है

• BSE का मुख्य इंडेक्स sensex है

• BSE की official website https://www.bseindia.com/

 NSE क्या है इनके बीच अंतर ?

• NSE की स्थापना लेट होईल लेकिन पुरा शेअर मार्केट
Computerise हूवा

• NSE पुरे वर्ल्ड मे टॉप 11 largest स्टॉक एक्सचेंज है

• NSE मे 1600 से ज्यादा कंपनिया लिस्टेड है

• NSE का capitalisation 31 मार्च 2020 के अनुसार
109.79 trillion dollars है

• NSE का मुख्या इंडेक्स Nifty है इसे Nifty 50 भी कहा जाता है

• NSE की official website https://www.nseindia.com/

अब जान गये होंगे BSE और NSE क्या है इनके बीच अंतर ?यह अगर आपको आर्टिकल अच्छा लगा आप इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करे

संबधीत लेख

nse or bse which is better | सबसे अच्छा शेयर बाजार कोनसा है

किस शेयर में इन्वेस्ट करना चाहिए? – High return stock

पोस्ट पढकर शेअर जरुर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.