आईपीओ क्या होता है, इसमे कैसे करे निवेश  

आईपीओ क्या होता है, इसमे कैसे करे निवेश

आईपीओ क्या होता है, इसमे कैसे करे निवेश  आपके मन मे भी ये सवाल जरूर आया होगा कि आखिर आइपीओ क्या होता हे। तभी आप Google पर आये हो इस्की पुरी जानकारी जानने के लिए. तो चलीये जानते है।आईपीओ क्या होता है, इसमे कैसे करे निवेश

आईपीओ क्या होता है, इसमे कैसे करे निवेश  

IPO का फुल फॉर्म इनिशियल पब्लिक आफरिंग है.कोई भी कंपनी आइपीओ तभी लाती है । यातो वो कंपनी नइ होती है.या फिर ऊस कंपनीने आईपीओ लाने का फिरसे निर्णय लिया होता है।

आइपीओ यांनी की कोई भी कंपनी अपने शेअर्स बेचने का निर्णय लेती है। और कोई भी investor उस कंपनी के जीतने पर्सेंट शेअर्स खरीद लेता है। ऊसे ऊस कंपनी की उतने ही पर्सेंट की हिस्सेदारी मिलती है।अब बात आती है कंपनी किस कारण से आईपीओ लाती है। तो चलीये जानते है

आइपीओ कीस कारण से लाते है

कोई भी कंपनी तभी हि आइपीओ लाती है।या तो उस कंपनी को अपने अलग अलग जगह पर ब्रांचेस खोलने होते है। या कंपनी को कीसी कर्ज को चुकाना होता है। नही तो जैसा की हमने उपर बताया या फिर वो कंपनी नइ भी हो सकती है। लेकिन किसी भी कंपनी को आइपीओ लाने से पहले सेबी से अप्रूवल लेना होता है अब हम जानते है. ये सेबी क्या है।

यह भी जानीए 👉BSE और NSE क्या है? इनमे कितना अंतर है

सेबी क्या है।what is SEBI

SEBI का फुल फॉर्म (security exchange board of India) है सेबी की स्थापना 1928 मे कुछ निजी कंपनीयो ने मिलकर की। लेकिन भारी मात्रा मे आम आदमी शेअर मार्केट मे इन्वेस्ट करने लगे। इसी कारण से गव्हर्मेंट ने 3 जनवरी 1992 मे सीबी को take over किया। ताकि किसी भी इन्वेस्टर के साथ किसी भी प्रकार का scam या fraud ना हो सकेे।

सेबी का ये काम होता है की.जितनी भी कंपनिया शेअर मार्केट मे लिस्टेड होती है ये ऊन सब कंपनीयो पर नजर रखता है। अगर किसी भी कंपनी को अपना आइपीओ लाना होता है।ऊस कंपनी को अपनी सारी डिटेल्स और दस्तावेज सेबी को देणे होते है। और उनके शरतो और नियमो का पालन करना होता है।तभी हि ऊस कंपनी को आयपीओ लाने का approval मिलता है।

आइपीओ मे कैसे करे निवेश 

आईपीओ मे निवेश करने से पहले आपको सबसे पहले उस कंपनी के बारे मे पता होना चाहिये। ताकि वो कंपनी किस कारण से आईपीओ लाई है।क्आइस्ईइ ब्पीह्ओइ company का आइपीओ खरीदने के लिये आपके पास डिमॅट और ट्रेडिंग अकाउंट होणा चाहिये। जिस ब्रोकर से आप डिमॅट और ट्रेडिंग अकाउंट  खोलेंगे वही ब्रोकर्स आपको आयपीओ खरीदने का ऑप्शन देती है जहा से आप आइपीओ मे निवेश कर सकते हैं।

ध्यान मे रखने वाली बाते

किसी भी कंपनी का आयपीओ जब आप खरीद लेते है। तो आपको कुछ बातो का ध्यान रखना होता है। जैसा की हमने उपर बताया वो कंपनी किस कारण से आयपीओ लाती है।

किसी भी कंपनी के आइपीओ को सिलेक्ट करणे से पहले आपको कंपनी के सर्विस या प्रॉडक्ट और फंडामेंटलस को जानना आपके लिये बेहत जरुरी है।किसी भी कंपनी के आइपीओ को खरीदने से पहले कंपनी के बारे मे पुरी रिसर्च करके ही निवेश करे।

दोस्तों अगर आपको हमारा आईपीओ क्या होता है इसमे कैसे करे निवेश   यह लेख बहुत पसंद आया तो आप इसे शेयर जरूर करें फिर भी अगर आपका कोई सवाल याद जाग रहा है तो आप हमें नीचे कमेंट में जरूर बता सकते हैं हम आपके सवाल का जवाब देने में थोड़ी देरी जरूर करेंगे पर जवाब जरूर देंगे।

संबंधित लेख

किस शेयर में इन्वेस्ट करना चाहिए? – High return stock

11 thoughts on “आईपीओ क्या होता है, इसमे कैसे करे निवेश  ”

  1. Regulation of aromatase expression in human tissues is a complex phenomenon, involving alternative promoter sites that provide tissue specific control where to buy stromectol online Moreover, the effect of ternary complexes on sulfamerazine solubility was investigated by the combination of the three CDs and meglumine

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *