शेयर मार्केट टिप्स | share market tips in hindi

top10 + शेयर मार्केट टिप्स | share market tips in hindi

भारत के शेयर बाजार में 100% में से 60% लोग ऐसे होते हैं जो किसी से शेयर मार्केट टिप्स सुनकर अपना पूरा पैसा स्टॉक में इन्वेस्ट करते हैं । और बाद में उस स्टॉक की प्राइस घट जाती है, तो उनको लॉस होता है और उन 100% मेसे 40% लोग ही शेयर मार्केट मे 1 दिन में पैसे कमा पाते हैं। लेकिन उन लोगों को इतनासा भी शेयर मार्केट का गणित और शेयर मार्केट टिप्स समझ में नहीं आती है।

आज हम आपको इस लेख में बहुत ही सीधे और सिंपल तरीके से कुछ शेयर मार्केट टिप्स (share market tips in hindi) बताएंगे जिससे आपको किस स्टॉक में इन्वेस्ट करना है यह समझ में आएगा और साथ ही आप किसी के गलत टिप्स के कारण इन्वेस्ट करने से पहले इन टिप्स का उपयोग करके अपना सही निर्णय ले सकते हैं । और अपने आप पर नियंत्रण कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं शेयर मार्केट टिप्स (stock market tips in hindi) के बारे में

शेयर मार्केट टिप्स | Share market tips in hindi

शेयर मार्केट में आपमे से कुछ लोग ऐसे होंगे जो पहले इन्वेस्टमेंट कर चुके हैं और कुछ लोग ऐसे होंगे जो अपना पहला स्टॉक और पहली इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं लेकिन आपको शेयर बाजार में किस स्टॉक का चुनाव करें ए समझ में नहीं आ रहा है।

तो ऐसे में आप नीचे दिए गए शेयर मार्केट टिप्स (share market for beginner tips in hindi) का उपयोग कर सकते हैं जो आपके इन्वेस्टमेंट में अच्छा मुनाफा कमा कर दे सकता है

1. एक सही कंपनी का चुनाव करना

किसी भी इन्वेस्टमेंट को करने से पहले आपको सबसे पहले एक सही कंपनी का चुनाव करना होगा अगर आप कम कीमत वाली मजबूत कंपनियों के शेयर का चुनाव करेंगे तो आपको कम समय में ज्यादा retan और मुनाफा मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

क्योंकि एक सही कंपनी का चुनाव करना बेहद जरूरी होता है अगर आप यह सोच रहे हैं कि एक सही और अच्छी कंपनी का चुनाव कैसे करें तो हमने जो नंबर 3 से लेकर नंबर 6 तक जो शेयर मार्केट टिप्स स (share bazaar tips in hindi ) बताई है वह टिप्स आपको एक अच्छी कंपनी का चुनाव करने में मदत करेगी।

2. रिसर्च और प्लॅनींग | Research and planning

कीसि शेयर में निवेश करने से पहले आपको एक निर्धारित रिसर्च और प्लानिंग करनी चाहिये ताकि किसी भी कंपनी के शेयर को खरीदने से पहले आपको जितनी ज्यादा हो सके उतनी ज्यादा रिसर्च करनी होगी,

जैसे कि कंपनी के Research के बारे में अगर कहा जाए तो आपको वो कंपनी शेयर मार्केट में कब लिस्टेड हुई, कंपनी के ट्रैक रिकॉर्ड कैसे है,कंपनी के ग्रोथ के बारे में, कंपनी के फंडामेंटल और कस्टमर सेटिस्फेक्शन के बारे में, क्या कंपनी के ऊपर कोई कर्जा है? इसके बारे में,

इस प्रकार की आदी और इत्यादी रिसर्च करके ही आपको किसी शेयर में निवेश करना चाहिए अगर आप इस लेख को आगे ध्यान से पढ़ेंगे तो मुझे पूरा विश्वास है आपको भी कंपनी के बारे  Research कैसे करे यह पाता चलेगा साथ ही साथ आप शेयर मार्केट टिप्स के बारे में भी जान पाएंगे जो आपको अच्छा मुनाफा कमाकर। दे सकता है

top10 + शेयर मार्केट टिप्स | share market tips in hindi

3. कंपनी के ट्रैक रिकॉर्ड चेक करना

अब हम जानते हैं कंपनी के ट्रैक रिकॉर्ड के बारे में यह ट्रैक रिकॉर्ड क्या है और शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले इन्हें देखना क्यों जरूरी है।अक्सर आपने न्यूज़पेपर या न्यूज़ चैनल पर देखा होगा कि कोई भी कंपनी अगर कोई गलत काम करती है तो गवर्नमेंट उस काम को रोकने के लिए एक नोटिस जारी करती है या फिर गलत काम करने के जुर्म में उनपर कार्यवाही की जाती है।

ठीक उसी तरह शेयर मार्केट में कोई भी कंपनी या बैंक किसी भी प्रकार का गलत काम करती हैं जिससे आम निवेशक को नुकसान होता है  तो बैंकों के लिए RBI और शेयर मार्केट में लिस्टेड कंपनियों के लिए SEBI एक नोटिस जारी करके उन पर कार्यवाही की जाती है। जिसे हम फ्रॉड कहते हैं

यह भी पढ़े 👉सेन्सेक्स निफ्टी शेअर बाजार क्या है

अगर आपको किसी भी कंपनी के ट्रेक रिकॉर्ड यानी फ्रॉड चेक करने हैं तो आप इसमें गूगल की मदद ले सकते हैं बस आपको गूगल में कुछ इस तरह सर्च करना होगा जैसे कि xyz company fraud या scam जैसे ही आप इस तरह सर्च करेंगे तो आपको उस कंपनी के बारे में और उसके ट्रेक रिकॉर्ड के बारे में आपको पता चलेगा जो शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले चेक करना बोहोत जरूरी है

4. कंपनी के मैनेजमेंट ट्रेक रिकॉर्ड चेक करना

शेयर मार्केट टिप्स ( share market investment tips in hindi) आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण और फायदेमंद होगी क्योंकि किसी भी इन्वेस्टर को किसी भी कंपनी में इन्वेस्ट करने से पहले उस कंपनी के मैनेजमेंट ट्रेक रिकॉर्ड को जानना बहुत जरूरी होता है | management track record यानी कंपनी को चलाने वाले owners किस तरह कंपनी को मैनेजमेंट करते हैं उसे मैनेजमेंट हिस्ट्री और ट्रैक रिकॉर्ड कहा जाता है।

शेयर मार्केट में अक्सर ऐसा होता है कि कुछ लोग किसी भी कंपनी में इन्वेस्ट करते है लेकिन कुछ कंपनी के owners गैरजिम्मेदार होते हैं। जो लोगों के पैसो को कंपनी में ठीक तरह से मैनेजमेंट नहीं करते जिससे कंपनी को और कंपनी के शेयर होल्डर को नुकसान होता है या फिर कभी कभी कंपनी के owners हि froud होते है जो पैसे लेकर भाग जाते  है

अगर आपको किसी भी कंपनी के मैनेजमेंट हिस्ट्री को जानना है तो आप उस कंपनी के वेबसाइट पर या गूगल के माध्यम से जान सकते हैं क्योंकि कंपनी के मैनेजमेंट रिकॉर्ड सही रहेंगे तो आपका पैसा डूबने के चांसेस बहुत कम होते हैं। इसीलिए हमेशा एक reputed कंपनी और कंपनी के ऑनर्स को चुने

5. कंपनी के सेल्स प्रॉफिट growth को देखना

कंपनी के सेल्स और प्रॉफिट को देखना भी जरूरी होता है क्योंकि कोई भी कंपनी अगर सेल्स ज्यादा कर रही है और प्रॉफिट कम कमा रही है तो आगे चलकर ऐसी कंपनी में इन्वेस्ट करना घाटे का सौदा हो सकता है। और अगर वह कंपनी प्रॉफिट ज्यादा और सेल्स कम कर रही है तो ए भी ठीक नहीं है।

इसीलिए ऐसी कंपनी में निवेश करें जिसका प्रॉफिट भी ज्यादा हो और सेल्स भी ज्यादा हो अगर आपको किसी भी कंपनी के सेल्स प्रॉफिट ग्रोथ को देखना है तो आप moneycontrol.com या screener.in जैसी वेबसाइट की मदद ले सकते

6. कंपनी का return on capital

किसी भी कंपनी का प्रोडक्ट अच्छा profitable  है या बुरा है, ए हम बिजनेस के प्रोडक्ट और sales से नहीं कह सकते इसके लिए हमें कंपनी का return on capital देखना होगा रिटर्न ऑन कैपिटल यानी किसी भी कंपनी को किसी नए बिजनेस अंपायर को खड़ा करने में और उसके प्रोडक्ट को बनाने में जितनी कॉस्ट लगति है

वह सब निकालकर कंपनी अपने प्रोडक्ट को बेचकर उस प्रोडक्ट पर कितने परसेंट का मुनाफा कमा रही है उसके माध्यम से हम उस कंपनी का  bissiness plans और प्रोडक्ट प्रॉफिटेबल है यह तय कर सकते है। ऐ सब जानने के लिए आप ऊपर दिए गए सभी शेयर मार्केट टिप्स (share market trading tips in hindi) का उपयोग कर सकते हैं

7. कंपनी का कस्टमर सेटिस्फेक्शन

कोई भी कंपनी मार्केट में नई आती है तो उसके प्रोडक्ट एक-दो साल चर्चा में होते हैं और कुछ लोग इसी कारण से उस कंपनी के शेयर खरीद लेते हैं लेकिन तीन-चार साल के बाद उसी कंपनी का प्रोडक्ट अच्छा ना होने के कारण उस कंपनी के शेयर प्राइस की कीमत घट जाती है।

और शेयर खरीदने वालों को लॉस होता है अगर आपको किसी कंपनी का प्रोडक्ट कितने लंबे समय तक टिकेगा यह जानना है तो आप खुद ही उस कंपनी के प्रोडक्ट का इस्तेमाल करिए अगर आपको लगता है प्रोडक्ट अच्छा है और लंबे समय तक टिकेगा तभी आप शेयर में इन्वेस्ट करें इस तरहा हमे उस कंपनी के, कस्टमर सेटिस्फेक्शन के बारे में पता चल सकता है।

8. बाकी देशों का ग्लोबल मार्केट जानना

अक्सर ऐसा होने की संभावना होती है कि अगर बाकी देशों का ग्लोबल मार्केट जानते समय अगर  शेयर बाजार में गिरावट दिखाई देती है। तो कुछ परसेंट की संभावना होती है कि हमारे देश के शेयर बाजार में भि गिरावट आ सके।

आप बाकी देशों का ग्लोबल मार्केट जानने के लिए मनीकंट्रोल जैसी वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं, क्योंकि ग्लोबल मार्केट का हाल जानना एक स्मार्ट इन्वेस्टर की निशानी होती है

9. निर्धारित लक्ष्य और निवेश बनाए रखना

शेयर मार्केट में किसी भी इन्वेस्टर को अपना एक निर्धारित लक्ष्य और निवेश बनाए रखना बेहद जरूरी है। भले ही आप intraday trading, swing trading, short term trading, long term trading चाहे इनमें से किसी भी प्रकार की ट्रेनिंग करें आपको एक निर्धारित लक्ष्य और निवेश बनाए रखना है। क्योंकि एक निर्धारित लक्ष्य एक इन्वेस्टर के लिए मुनाफा और नुकसान दोनों के लिए फायदेमंद साबित होता है ।

10. भावनाओं पर नियंत्रण रखना चाहिए

कभी कबार treding करते समय या long tarm इन्वेस्टमेंट करते समय  कंपनी के शेयर को हम खरीद लेते है तो उस share की प्राइस कुछ टाइम के लिए घट जाती है। तब हम भावनाओं के बाहाव में आकर शेयर्स को बेच देते हैं

और कुछ ही टाइम के बाद उसी शेयर की कीमत बढ़ जाती है ए देखते ही हमें पछतावा होता है इसीलिए किसी भी शेयर को खरीदने से पहले हमें एक निर्धारित लक्ष्य और निवेश बनाये रखना चाहिए और साथ ही भावनाओं पर पूरा नियंत्रण रखना चाहिए

यह भी पढ़े 👉शेयर बाजार के फायदे और नुकसान से बचने के टिप्स

11. ज्यादा लालच ना करें

शेयर मार्केट में ज्यादातर लोगों के साथ ऐ देखने को मिलता है कि हम कंपनी के शेयर को खरीद लेते हैं अगर उस शेयर की प्राइस हमारे निर्धारित प्रॉफिट से ऊपर जाती है तो हममे लालच निर्माण होता है और वही शेयर की प्राइज आगे चलकर घट जाती है।फिर भी हम ए शेयर ऊपर जाएगा ऐसा मन में पकड़कर बैठते हैं और आगे चलकर वही शेयर नीचे गिर जाता है जिसका नुकसान हमें लालच निर्माण होने से चूकाना पड़ता है।

12. शेयर बाजार के चढ़ाव और उतार को समझें

शेयर मार्केट में शेयर बाजार के चढ़ाव और उतार को समझना बेहत जरूरी होता है और शेयर मार्केट के चढ़ाव और उतार को समझने के लिए आपको अपने अनुभव से ही सीखना होगा क्योंकि शेयर मार्केट में आपका सबसे बड़ा शिक्षक तो आपका अनुभव ही हो सकता है। चाहे वो अनुभव गलत हो या सही हो इसका रिजल्ट तो आपको अपने इन्वेस्टमेंट से आगे देखने को मिलेगा

शेयर मार्केट टिप्स- निष्कर्ष

आज हमने आपको मैंने अपने अनुभव और रिसर्च से जितना कुछ सीखा है उतना सही और सच बताया है अगर आप शेयर मार्केट में जल्दी सीखना चाहते हो तो आपको अलग-अलग प्रकार के कोर्स करके सीखना होगा तभी आप जल्दी शेयर मार्केट के एक्सपर्ट बन सकते हो आज हमने जीन शेयर मार्केट टिप्स ( share market tips in hindi) मे को बताया है।

ICICI bank share price target 2022, 2023, 2025, 2030 तक शेयर कैसा प्रदर्शन करेगा ?

आप उसका उपयोग करके अपनी इन्वेस्टमेंट को और मुनाफे को और बढ़ा सकते हो दोस्तों अगर आपको यह लेख अच्छा लगा तो आप इसे शेयर जरूर करें और हमारे इस काम में हमारा सहयोग करें क्योंकि पढ़ेगा इंडिया तभी बढ़ेगा इंस्मार्ट

{पोस्ट को आखिर तक पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद}

पोस्ट पढकर शेअर जरुर करे

2 thoughts on “शेयर मार्केट टिप्स | share market tips in hindi”

    1. Thank you for reading our post NANKI RAM BAGHEL ji you can open your demat account with upstox which is very good brokerage platform of india which will charge very less money on your investment if you want to open your demat account please do as below click on the link

      https://rb.gy/u6oh4n

Leave a Comment

Your email address will not be published.